देखें वीडियो : कान्हा माखन पब्लिक स्कूल पर बड़ा खुलासा, दर्ज़ होगी FIR ?

2
7213

मथुरा : आपके जहन में ये बात उठ रही होगी कि आखिर हम ये क्यों कह रहे है। तो चलिए बताते है उस कड़वी हकीकत का सच जिसके बाद आपका मन सहम उठेगा । गुरूगाम की घटना तो आप जानते ही होंगे। जहां रेयान इंटरनेशनल स्‍कूल में शुक्रवार को कक्षा-2 के एक बच्‍चे की निर्मम हत्‍या कर दी गई। आखिर कैसे होती है स्कूल प्रशासन की चूक, इसी बात को मन मे लिए समाचार सिटी24 की टीम ने सुरक्षा पर मथुरा के नामी गिरामी स्कूल का जायजा लिया।

हमारी टीम मथुरा के नामी गिरामी स्कूल कान्हा माखन पब्लिक स्कूल पहुंची । जहां सुरक्षा के नाम पर बच्चों के साथ मजाक किया जा रहा है । जो तस्वीरें हम आपको दिखाएंगे उसके बाद शायद ही आप अपने बच्चों को स्कूल भेंजेगे।
पहली तस्वीर कान्हा माखन पब्लिक स्कूल के उस हिस्से की है जहां गार्ड तो मौजूद है पर पूछने वाला कोई नही है। हमारी टीम स्कूल के मेन गेट से बेधड़क होकर स्कूल में चली गई लेकिन हमसे सवाल किसी ने नही किया।

दूसरी तस्वीर कान्हा माखन पब्लिक स्कूल के रिशेप्शन की है। जहां हमारा कैमरामेन आधा घंटे तक बैठा रहा लेकिन किसी ने वहां भी हमसे कुछ नही पूछा। आलम तो ये था कि वहा लोग बिना रोक टोक के कोरिडोर में घूम रहे थे ।

तीसरी तस्वीर जो अब हम दिखाने जा रहे वो बेहद चौंकाने वाली है। अगर आपके बच्चे यहां पढ़ते है तो आप इन तस्वीरों को जरूर देंख लें । आपको बता दें कि गुरूग्राम में जो हत्या हुई उसमें बस कडंक्टर का हाथ बताया जा रहा है । यहां भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला जब बस चालक से हमने उसका आईकार्ड मांगा तो खुद ही सुन लीजिए उसका जबाब
सुना आपने स्कूल ने ना ही बसों में चालक की पुलिस वेरीफिकेशन कराई है। और न ही आईकार्ड दिए गए हैं । कल को अगर नौनिहालों के साथ कुछ हो जाए तो उसका जिम्मेदार आखिर कौन होगा । इसका सीधा मतलब यही हुआ कान्हा माखन में कोई आये या जाए किसी को कोई फर्क नही पड़ता यहां तो चालक ही स्कूल पर आरोप लगाता नजर आ रहा है।

चौथी तस्वीर: स्कूल की उन खामियों पर भी हमारी नजर गई जो बड़े हादसे को दावत दे रही है। देखें आप भी इन बसों को जहां आपके लाल रोज सफर करते है। इन बसों की हालत इतनी दयनीय है कि कब कोई हादसा हो जाए पता ही नही। बीते दिनों भी ऐसा हुआ जब कान्हा माखन की खराब वैन हादसे का शिकार हुई। जिसमे आधा दर्जन बच्चे घायल हो गए थे।

पांचवी तस्वीर: स्कूल वाहन मानकों की खुलेआम अनदेखी कर रहे हैं। बच्चों की सुरक्षा के इंतजाम भी नहीं है। बच्चों को क्षमता से अधिक बैठाया जाता है। ये नजारा कभी भी सड़कों पर देखा जा सकता है। कई दुर्घटनाएं भी हो चुकी हैं। बावजूद इसके सब खामोश हैं। आप इन बच्चों की जुबानी खुद सुन लीजिए आखिर इनकों किन दिक्कतों के बाद मौत का सफर करना पड़ रहा है। जानकारी के मुताबिक कान्हा माखन स्कूल में जिन बसों का संचालन हो रहा है। उनकी स्थिती दयनीय है। ये बसे दूसरे राज्यों में प्रतिबंधित है। लेकिन कान्हा माखन में इन्हे कैसे परमिट मिल गया। इसका जबाब भी आप सुन लीजिए स्कूल प्रशासन ने खुद कबूला जमाना कम्पटीशन का है। जिसके चलते ये हो रहा है।

अब आप समझ ही गए होंगे प्रशासन को पैसा प्यारा है। बच्चों की सुरक्षा नही है। चंद पैसों की लालच में अधिकांश ऑटो रिक्शा, मैजिक वाले सुरक्षा की परवाह किए बगैर वाहनों में ठसाठस बच्चों को भर रहे हैं। स्कूलों की सुरक्षा व्यवस्था बेहद दयनीय है। बाहरी लोगों की आवाजाही रोकने में भी गंभीर लापरवाही बरती जा रही है। मेटल डिटेक्टर या अन्य जांच को लेकर स्कूल सतर्क नहीं रहता है। स्कूल स्टाफ बार-बार बदल दिए जाते हैं लेकिन अभिभावकों को इसकी जानकारी भी नहीं मिलती है।
ऐसे में समाचार सिटी24 सवाल खड़े करता है कि कैमरे होने के बावजूद उनकी मॉनिटरिंग नहीं होती। केवल खानापूर्ति हो रही है। छोटे बच्चों की सुरक्षा के लिए हर स्थान पर अटेंडेंट (परिचारक) होना चाहिए। रिसेप्शन से आगे किसी बाहरी को जाने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए। आज के दौर में यदि किसी स्कूल में बच्चों के साथ हादसे हो रहे हैं तो उसके लिए सिर्फ स्कूल मैनेजमेंट ही नहीं, बल्कि सरकार भी जिम्मेदार है।

फिलहाल जो हमने दिखाया है । ये तो सिर्फ एक स्कूल का हाल है । लेकिन हमारी खबर पर कान्हा माखन स्कूल अपनी व्यवस्थाओं में सुधार कर करवाई की बात कह रहा है। अभी ऐसे कई स्कूल है जो बेपर्दा होंगे तो समाचार सिटी24 की विशेष रिपोर्ट देखने के लिए बने रहिये हमारे साथ और यदि हमारी ये रिपोर्ट पसंद आये तो हमारे फेसबुक id को शेयर करें और हमारे youtube को subscribe करें ।

2 COMMENTS

  1. Band kar dena chahie aesa school. Jo ki baccho se fees toh dugni vasoool karta he but facility nahi deta he……. Buses ki aesi condition kar rakhi he toh accident toh Hoga hi….. Kaha jata he pura pesa.. Kya Buses repair bhi nahi ho sakti he kya……

  2. News Cover krna inka kam h or presents jante hai kanha makhan kabhi students ki jindgi she khilbad nhi kar skte hme bharosha hai kanha makha ke management par is news se hm pr koi farak nhi padta

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here